Breaking News
अग्निवीर योजना सक्षम सैनिक, सशक्त सेना की दिशा में क्रांतिकारी कदम – जोशी
जान्हवी कपूर की उलझ के नए पोस्टर ने बढ़ाया प्रशंसकों का उत्साह, अजय देवगन को टक्कर देने के लिए तैयार अभिनेत्री
एससी एसटी (अत्याचार निवारण) अधिनियम के तहत लंबित मामलों के निस्तारण पर जोर
नेपाल में भूस्खलन से नदी में बह गई दो यात्री बसें, 50 लोगों की तलाश शुरू
बद्रीनाथ से कांग्रेस प्रत्याशी लखपत बुटोला की शानदार जीत
उत्तराखण्ड की मंगलौर सीट से कांग्रेस प्रत्याशी काजी निजामुद्दीन ने मार ली बाजी
बरसात में आल वेदर रोड के खस्ता हाल, भाजपा के दावों की खुली पोल
बारिश के मौसम में फूलगोभी में होने लगते हैं कीड़े, खाने से पहले साफ करके ऐसे पकाएं
यूपी में आयोजित आम महोत्सव में उत्तराखंड के 42 प्रजाति के आमों का किया गया प्रदर्शन

जोमैटो ने वेज ग्राहकों के लिए अपने प्लेटफॉर्म पर ‘प्योर वेज फ्लीट’ और ‘प्योर वेज मोड’ को किया शामिल 

नई दिल्ली। जोमैटो के को-फाउंडर और सीईओ दीपिंदर गोयल ने प्योर वेज ग्राहकों का ख्याल रखते हुए अपने प्लेटफॉर्म पर ‘प्योर वेज फ्लीट’ और ‘प्योर वेज मोड’ को शामिल किया है, जिससे कस्टमर्स को ऐसे रेस्टोरेंट ढूढऩे में आसानी होगी, जो केवल शाकाहारी भोजन परोसते हैं। उन्होंने कहा कि ये प्योर वेज मोड और प्योर वेज फ्लीट किसी धर्म या राजनीति पार्टी विशेष के लिए लॉन्च नहीं किया गया है। ‘प्योर वेज मोड’ में ऐसे रेस्तरां शामिल होंगे जो केवल शाकाहारी भोजन परोसते हैं और मांसाहारी आइटम परोसने वाले सभी रेस्तरांओं को बाहर कर दिया जाएगा।

गोयल ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा, भारत में शाकाहारी लोगों का प्रतिशत सबसे बड़ा है, और हमें उनसे जो सबसे महत्वपूर्ण प्रतिक्रिया मिली है, वह यह है कि वे इस बात पर बहुत खास ध्यान देते हैं कि उनका भोजन कैसे पकाया जाता है । ‘प्योर वेज फ्लीट’ केवल शुद्ध शाकाहारी रेस्तरां के ऑर्डर ही परोसेगा। गोयल ने कहा, इसका मतलब यह है कि नॉन-वेज भोजन या नॉन-वेज रेस्तरां द्वारा परोसा गया शाकाहारी भोजन, हमारे ‘प्योर वेज फ्लीट’ के लिए बने हरे डिलीवरी बॉक्स के अंदर कभी नहीं जाएगा। कंपनी भविष्य में ग्राहकों की विशेष जरूरतें पूरी करने के लिए और अधिक विशिष्ट चीजें लाने की योजना बना रही है।

जोमैटो ने बताया कि कंपनी आने वाले समय में हाइड्रोलिक बैलेंसर्स के साथ एक विशेष केक डिलीवरी लेकर आ रही है, जो केक को खराब होने से बचाता है। अगले कुछ हफ्तों में यह सुविधा पूरे देश में चरणबद्ध तरीके से लागू हो जाएगी। फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म ने चालू वित्तवर्ष की तीसरी तिमाही में 125 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया, जिसमें पिछले साल की समान तिमाही की तुलना में 390 करोड़ रुपये का सुधार है। वित्तवर्ष 24 की तीसरी तिमाही में इसका समेकित समायोजित राजस्व साल-दर-साल 53 प्रतिशत बढक़र 3,609 करोड़ रुपये हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top