Monday, August 8, 2022
Home घुम्मकड़ इंडिया स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की जानकारी

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की जानकारी

गुजरात में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के नाम से सरदार वल्लभभाई पटेल की प्रतिमा का लोकार्पण  31 अक्टूबर 2018 को प्राइम मिनिस्टर नरेन्द्र मोदी द्वारा किया गया। इस प्रतिमा को सरदार पटेल स्टैच्यू के नाम से भी जाना जाता है। यह प्रतिमा दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति है। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी (Statue of Unity) की प्रतिमा साधू बेट, नर्मदा डिस्ट्रिक्ट, गुजरात में स्तिथ है। इसके निर्माण का अनाउंसमेंट प्रधान मंत्री द्वारा 7 अक्टूबर 2010 को किया गया और इस मूर्ति का निर्माण रिकॉर्ड टाइम पर हुआ। इसे बनाने में करीब 3000 मजदूर लगे और करीब 300 इंजिनियर लगे और इसे बनने में साड़े तीन साल लगे। आइये स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के बारे में और भी रोचक फैक्ट्स को जाने।

1. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की ऊंचाई कितनी है 

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की कुल ऊंचाई “182 मीटर या 597.11 फीट” है। स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी की ऊंचाई संयुक्त राज्य अमेरिका के स्टेचू ऑफ लिबर्टी से दोगुनी और ब्राजील के रियो डी जेनेरिओ में स्तिथ क्राइस्ट द रिडीमर की प्रतिमा से पांच गुना लंबी है।

2. सरदार पटेल स्टैच्यू के पास संग्रहालय और ऑडियो-विजुअल विभाग का निर्माण किया गया है 

सरदार पटेल स्टैच्यू के पास संग्रहालय और ऑडियो-विजुअल विभाग का निर्माण किया गया है - Statue Of Unity To Have Museum And Audio Visual Department In Hindi

प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी में भारत के पिता सरदार वल्लभबाई पटेल के जीवन और समय को दर्शाते हुए एक संग्रहालय और ऑडियो-विजुअल विभाग भी खोला जायेगा।

3. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का निर्माण करने वाली कंपनी

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का निर्माण लार्सन एंड टुब्रो कंपनी ने किया था और इसे बनाने के लिए सबसे कम बोली देकर अनुबंध जीता था।

4. सरदार पटेल स्टैच्यू को बनाने की लागत

सरदार पटेल स्टैच्यू की प्रतिमा को बनाने में 2989 करोड़ रूपए खर्च हुए जिसमें इसकी आकृति, निर्माण, और रखरखाव शामिल है।

5. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को बनाने में कांसे का उपयोग हुआ है 

सरदार पटेल स्टैच्यू की मूर्ती में लगे कांस्य की प्राकृतिक रूप से उम्र बढ़ने की प्रक्रिया के कारण 100 साल में यह प्रतिमा अपने मूल रंग कांस्य रंग से हरे रंग में बदल जाएगी।

इसको बनाने में 2989 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत आई है जिसमे डिजाइन, निर्माण और रखरखाव पर खर्च किया जा रहा है।

6. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के पास पर्वतीय श्रृंखलायें 

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के पास पर्वतीय श्रृंखलायें – Statue Of Unity Surrounded By Mountains In Hindi

सरदार वल्लभ भाई पटेल( Vallabhbhai Patel) की प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की मूर्ति नर्मदा बांध की तरफ फेस कर बनायी गयी है, यह गुजरात के केवडिया शहर के पास सतपुरा और विंध्य पर्वत श्रृंखलाओं के बीच स्थित है।

मूर्ति में 20,000 वर्ग मीटर का क्षेत्र शामिल है और 12 वर्ग किलोमीटर कृत्रिम झील से घिरा हुआ है।

7. सरदार पटेल स्टैच्यू की मूर्ति के अन्दर ऑब्जरवेशन डेक बनाया गया है 

नदी के तल से लगभग 500 फीट की ऊंचाई पर स्थित ऑब्जरवेशन डेक (observation deck), बना हुआ है जो की एक समय में 200 लोगों की क्षमता वाला है। ताकि यहाँ आने वाले विसिटर्स (Visitors) को एक मनोरम दृश्य देखने को मिले। म्यूजियम में एक लेजर और लाइट शो भी दिखाया जाएगा।

8. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी है ईको फ्रेंडली 

वाहनों के ट्रैफिक और प्रदूषण से बचने के लिए स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की मूर्ति और आसपास के क्षेत्र तक पहुंचने के लिए नावों का उपयोग किया जाएगा।

9. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की मजबूती 

मूर्ति तेज भूकंप और हवा की गति 60 किमी प्रति सेकंड से लेकर100 किमी तक का सामना करने में सक्षम है।

10. सरदार पटेल स्टैच्यू के आसपास में घूमने लायक दर्शनीय स्थल

सरदार पटेल स्टैच्यू के अलावा दर्शनीय स्थल- Places To See Other Than Statue Of Unity In Hindi

एक म्यूजियम, एक 3 सितारा लक्ज़री होटल, एक फ़ूड कोर्ट, एक स्मारक उद्यान और एक भव्य संग्रहालय स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का हिस्सा हैं।

11. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के लिए शोध केंद्र

मूर्ति के नजदीक एक शोध केंद्र बनाने की योजना बनाई गई है जहां जल प्रबंधन और आदिवासी विकास जैसे विषयों का भी अध्ययन किया जाएगा और शोध किया जाएगा।

12. सरदार पटेल स्टैच्यू के लिए राजमार्ग 

गुजरात में साधु द्वीप से केवडिया शहर तक स्टैच्यू ऑफ यूनिटी तक पहुचने के लिए 3.5 किमी राजमार्ग बनाया गया है।

13. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी में सेल्फी पॉइंट

परिसर में एक अलग सेल्फी पॉइंट होता है जहां से कोई मूर्ति का अच्छा दृश्य प्राप्त कर सकता है और तस्वीरें क्लिक कर सकता है।

14. सरदार पटेल स्टैच्यू के पास फूलों की घाटी बनने का प्रस्ताव 

सरदार पटेल स्टैच्यू के पास नर्मदा नदी के किनारे एक ‘फूलों की घाटी’ बनाने का प्रस्ताव है।

15. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की टिकट बुकिंग

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की यात्रा के लिए कोई भी ऑनलाइन टिकट और ऑफ लाइन टिकट बुक कर सकता है।

16. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का प्रवेश शुल्क

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के टिकट का किराया – Ticket Fare For Statue Of Unity In Hindi

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी घूमने के लिए अलग अलग शुल्क है, जो 60 रु से लेकर 350 रु तक है।

आप सरदार पटेल मूर्ति के लिए ऑनलाइन टिकट बुक कर सकते हैं। दर्शक हफ्ते के 7 दिन सुबह 9 से शाम 6 बजे तक यहां आ सकेंगे। एंट्री 3 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए नि: शुल्क है, जबकि यह हर किसी के लिए 350 रुपये प्रति हेड है। इस टिकट में अवलोकन डेक, फूलों की घाटी, सरदार पटेल स्मारक, संग्रहालय और ऑडियो-विज़ुअल गैलरी, एकता साइट की प्रतिमा और सरदार सरोवर बांध में घूमना शामिल है।

आपके लिए एक सस्ता विकल्प भी है, जिसकी कीमत 15 वर्ष से कम आयु के बच्चों के लिए 60 रुपये और बड़ों के लिए 120 रुपये होगी। इस टिकट में फूलों की घाटी, सरदार पटेल स्मारक, संग्रहालय और ऑडियो-विज़ुअल गैलरी के लिए मूल प्रवेश टिकट शामिल है, एकता साइट और बांध की प्रतिमा को देखा जा सकता है

17. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी तक कैसे पहुँच सकते है 

गुजरात में बनी ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ को देखने के लिए आपको नर्मदा जिले में केवड़िया डैम पहुंचना होगा। यदि आप रेल या हवाई जहाज से यहां आना चाहते हैं तो आपको वडोदरा गुजरात सबसे पास पड़ेगा। यहां से केवड़िया 86 किमी दूर है। जिसे आप सड़क मार्ग से आसानी से दो घंटे से भी कम समय में पूरा कर सकते हैं।

RELATED ARTICLES

भारत के सौर ऊर्जा क्षेत्र में अहम भूमिका निभा सकते हैं फ्लोटिंग सोलर

भारत का लक्ष्य इस साल के अंत तक 100 गीगावॉट सौर ऊर्जा का है, लेकिन फ्लोटिंग सोलर प्लांट्स इस लक्ष्य की योजना का हिस्सा...

नेपाल के एवरेस्ट में हिमालयी भेड़ियों की दहशत

रमेश बुशाल अप्रैल, 2022 की एक खूबसूरत सुबह थी। माउंट एवरेस्ट को उत्तर-पूर्वी नेपाल के नामचे में सागरमाथा (एवरेस्ट) राष्ट्रीय उद्यान कार्यालय से स्पष्ट रूप...

सर्दियों के मौसम के लिए उत्तराखण्ड के खूबसूरत ट्रैक, साहसिक खेलों के शौकीनों के लिए पहली पसंद बन रहे हैं विंटर ट्रैक

सर्दियों के मौसम के लिए उत्तराखण्ड के खूबसूरत ट्रैक, साहसिक खेलों के शौकीनों के लिए पहली पसंद बन रहे हैं विंटर ट्रैक उत्तराखंड के प्रसिद्ध...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post

हर घर तिरंगा अभियान के तहत गांधी पार्क देहरादून में किया गया कार्यक्रम का आयोजन

देहरादून।  76वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है, इसके साथ ही हर घर तिरंगा अभियान भी चलाया...

लक्ष्य सेन डेब्यू पर ही बने कॉमनवेल्थ गेम्स चौंपियन, 3 गेम में जीता फाइनल, सीएम धामी ने स्वर्ण पदक जीतने पर दी बधाई

नई दिल्ली। भारत के युवा शटलर लक्ष्य सेन ने कॉमनवेल्थ गेम्स में सोमवार को पुरुष सिंगल्स का गोल्ड मेडल जीत लिया है। बर्मिंघम में...

पूर्व आईएफएस किशनचंद सहित कई अधिकारियों पर मुकदमे की शासन ने दी अनुमति, जानिए क्या था पूरा मामला

देहरादून। पूर्व आईएफएस किशनचंद व अन्य अधिकारियों पर मुकदमे की शासन ने अनुमति दे दी है। कॉर्बेट पार्क में टाइगर सफारी बनने में अनियमितता...

उत्तराखंड में पैर पसार रहा कैंसर, दून अस्पताल में तीन तरह से होगा कैंसर का इलाज

देहरादून। देश में हर साल बड़ी संख्या में कैंसर से पीड़ित लोग अपनी जान गंवाते हैं। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में कैंसर के खिलाफ...

अवैध असलहा रखने के दोषी कैबिनेट मंत्री राकेश सचान को एक साल कैद, मंत्री संजय निषाद पर भी लटकी कानून की तलवार

कानपुर। अवैध असलहा रखने में आर्म्स एक्ट के तहत दोषी करार दिए गए कैबिनेट मंत्री राकेश सचान को अपर मुख्य महानगर मजिस्ट्रेट तृतीय आलोक...

CM धामी ने केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से की भेंट, राज्य से संबंधित विभिन्न परियोजनाओं पर की चर्चा

नई दिल्ली।  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में केंद्रीय सङक परिवहन व राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से भेंट की। मुख्यमंत्री ने केंद्रीय...

रक्षाबंधन किस दिन मनाएं.? 11 या 12 अगस्त को.? तिथि को लेकर दूर करें कन्फ्यूजन, देखें किस दिन है शुभ मुहूर्त

भाई-बहनों के प्यार का त्योहार रक्षाबंधन 2022 की सरकारी छुट्टी 11 अगस्त को है। इस बार रक्षाबंधन किस दिन है इसको लेकर लोगों के...

हम दो हमारे बारह को लोगों ने बताया इस्लामोफोबिक, डायरेक्टर की सफाई – बोले फिल्म देखेंगे तो खुशी होगी

हाल ही हम दो हमारे बारह नाम की एक फिल्म का पोस्टर रिलीज किया गया, जिस पर विवाद खड़ा हो गया है और सोशल...

जेल में मनेगी संजय राउत की जन्माष्टमी, जमीन घोटाला मामले में कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

मुंबई । मुंबई की एक विशेष अदालत ने शहर में एक चॉल के पुनर्विकास में कथित अनियमितताओं से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सोमवार...

11 अगस्त से पहले बिहार में खेला होने के संकेत, टूटने की कगार पर भाजपा और जेडीयू का गठबंधन, नीतीश ने बुलाई विधायकों की...

पटना। पूर्व केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह के जेडीयू से इस्तीफा देते ही बिहार की राजनीति में हलचल तेज हो गई है। एनडीए में ऑल...